Style Switcher

शब्द का आकार बदलें

A- A A+

भाषायें

सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना

योजना का उद्देश्य :

  • दिव्यांग मेधावी व्यक्तियों को सिविल सेवा के क्षेत्र में प्रतियोगी परीक्षाओं में उत्तीर्ण होने के लिए प्रोत्साहित करने हेतु सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना प्रारंभ की जा रही है| इससे अन्य दिव्यांग व्यक्ति प्रतिस्पर्धा के लिए प्रेरित होंगे और आगामी तैयारी हेतु आर्थिक सहयोग प्राप्त हो सकेगा|

योजना हेतु पात्रता :-

  1. 40% या उससे अधिक के नि:शक्तजन|
  2. आवेदक छत्तीसगढ़ का निवासी हो।
  3. संघ/छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग प्रतियोगी परीक्षाओं में उत्तीर्ण अभ्यर्थी।

मिलने वाले लाभ :

  1. प्रारंभिक परीक्षा में उत्तीर्ण होने पर राशि रुपये 20,000/- एकमुश्त।
  2. मुख्य परीक्षा में उत्तीर्ण होने पर राशि रुपये 30,000/- एकमुश्त।
  3. संघ/छत्तीसगढ़ लोक सेवा में चयन होने पर राशि रुपये 50,000/- एकमुश्त।

आवेदन की प्रक्रिया :-

  • आवेदन सयुंक्त/उप संचालक, समाज कल्याण जिला कार्यालय में प्रस्तुत कर सकते है|
विस्तृत जानकारी के लिए क्लिक करें