Style Switcher

शब्द का आकार बदलें

A- A A+

भाषायें

उच्च शिक्षा प्रोत्साहन राशि

निःशक्तजन छात्रों को उच्च शिक्षा में प्रोत्साहन योजना

योजना का उद्देश्य :

  • आर्थिक आभाव एवं निःशक्तता के कारण मेधावी निःशक्त बच्चे उच्च शिक्षा प्राप्त करने से वंचित हो जाते है,जिन्हें संबल प्रदान करने के लिए माध्मिक/उच्चतर माध्मिक विद्यालय में सर्वाधिक अंक प्राप्त करने वाले निःशक्त विद्द्यार्थियों एवं तकनीकी एवं उच्च शिक्षा में अध्यनरत नियमित निःशक्त छात्रों को प्रोत्साहन राशि प्रदाय किया जाना है।

हितग्राहियों की पात्रत:

  1. छत्तीसगढ़ का मूल निवासी हो।
  2. निःशक्तता 40 प्रतिशत या उससे अधिक हो।
  3. जिला अंतर्गत माध्मिक /उच्चतर माध्मिक परीक्षा में निःशक्तजनों की श्रेणी में सर्वाधिक अंक प्राप्त किया हो| अथवा
  4. आई.टी आई /पोलिटेक्निक /स्नातक एवं स्नातकोत्तर (कला,वाणिज्य एवं विज्ञान) में नियमित विद्द्यार्थी|अथवा
  5. चिकित्सा /तकनीकी /व्यवसायिक शिक्षा में स्नातक एवं स्नातकोत्तर अध्ययनरत नियमित विद्द्यार्थी|

मिलने वाले लाभ :-

  1. जिले में माध्यमिक परीक्षा (दसवीं) में सर्वाधिक अंक पाने वाले निःशक्त छात्र तथा छात्रा को राशि रूपये 2000 /-एकमुश्त ।
  2. जिले में उच्चतर माध्यमिक परीक्षा (बारहवीं) में सर्वाधिक अंक पाने वाले निःशक्त छात्र तथा छात्रा को राशि रूपये 5000 /-एकमुश्त ।
  3. आई.टी आई /पोलिटेक्निक /स्नातक एवं स्नातकोत्तर (कला,वाणिज्य एवं विज्ञान) पर अध्ययन करने वाले विद्द्यार्थियों को राशि रूपये 6000 /-रूपये प्रतिवर्ष प्रोत्साहन राशि ।
  4. चिकित्सा /तकनीकी /व्यवसायिक शिक्षा में स्नातक एवं स्नातकोत्तर अध्ययनरत विद्द्यार्थियों को राशि रूपये 12000 /-रूपये प्रतिवर्ष प्रोत्साहन राशि ।

आवेदन की प्रक्रिया :-

  • आवेदन निर्धारित प्रारूप में आवेदन पत्र के साथ चिकित्सा प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र, जाति प्रमाण पत्र संलग्न कर संयुक्त संचालक/उप-संचालक जिला कार्यालय, पंचायत एवं समाज कल्याण विभाग को आवेदन करना होगा।
  • विस्तृत जानकारी के लिए क्लिक करें